परीक्षा दौरान हेल्पलाइन

हेल्पलाइन क्या है?

हेल्पलाइन एक मुफ्त सेवा है और ऐसे व्यक्ति को भावनात्मक समर्थन और जानकारी प्रदान करता है जो किसी संकट में हो. ये ऐसी जगह है जहाँ आप अपनी समस्याओं को बिना संकोच के चर्चा कर सकते हैं. बहुत सारी हेल्पलाइनें टेलीफ़ोन पर ही समर्थन प्रदान करते हैं, लेकिन कुछ हेल्पलाइनें ई-मेल द्वारा भी ऑनलाइन मार्गदर्शन करते हैं.

हेल्पलाइन को कब फोन करना चाहिए?

ऐसा नहीं है कि आप सिर्फ़ संकट में ही हेल्पलाइन को कॉल करें, लेकिन जब आपको किसी परिस्तिथि की सामान्य जानकारी या स्पष्टता की ज़रूरत हो तब भी कॉल कर सकते हैं. सिर्फ़ अपने लिए ही नहीं किसी और की सहायता करने के लिए भी हेल्पलाइन कॉल कर सकते हैं.

जब मैं हेल्पलाइन कॉल करूँ तो उनसे क्या उम्मीद कर सकता हूँ?

जब आप हेल्पलाइन फोन करते हैं, तब आपको एक काउंसेलेर/ परामर्शदाता से कनेक्ट किया जायेगा जिन्हें आप द्वारा सामना किए जाने वाली समस्याओं की काफ़ी समझ होगी (जैसे- परीक्षा का तनाव, आत्मविश्वास की कमी आदि). हेल्पलाइन्स बनी ही हैं समस्याओं को सुनकर सही मार्गदर्शन करने के लिए ताकि आप उचित निर्णय लें. इस सुविधा के लिए, परामर्शदाता आपसे कुछ बुनियादी सवाल पूछ सकते हैं जैसे आपकी उम्र और आपकी समस्याओं का ब्यौरा जिसका आप अनुभव कर रहे हैं. फिर काउंसेलेर पूरी सहनशीलता से, बिना बीच में कुछ बोले या कुछ नतीजे पर पहुँचे, आपकी बातें सुनेगा. आपके द्वारा मिली जानकारी के आधार पर वे आपको अच्छा समाधान बताएँगे या आपको एक विशेषज्ञ से मिलने की सलाह देंगे.

जो जानकारी मैं शेयर करूँ क्या वह गोपनीय हो सकता है?

एक हेल्पलाइन काउंसलर से बातचीत ऐसी ही होती है जैसे एक करीबी दोस्त के साथ, फ़र्क इतना ही है कि उन्हें आपका नाम नहीं पता होता है. हेल्पलाइन पर हुए वार्तालाप इसी शर्त पर होते हैं कि वह गोपनीय रहें, जब तक परिस्तिथि ऐसी रहे कि गोपनीयता का उल्लंघन न हो ( जैसे फ़ोन करने वाले खुद के लिए या दूसरों के लिए खतरा न बन गए हों )

अच्छा रहेगा अगर आप बातचीत बढ़ाने से पहले हेल्पलाइन ऑपरेटर के साथ गोपनीयता समझौते को स्पष्ट रूप से बताएँ.

हेल्पलाइन के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें. 

No stories found.
वाइट स्वान फाउंडेशन
hindi.whiteswanfoundation.org