मातृत्व

नया मातृत्व: जन्म के बाद भावनात्मक रूप से स्वस्थ रहना

वाइट स्वान फ़ाउंडेशन

यदि गर्भावस्था पूरी तरह से होने वाली माँ पर निर्भर है,  तो इसके तुरंत बाद का चरण पूरी तर बच्चे पर फोकस रहता है। पहली बार मां बनने वाली महिलाओं के लिए बच्चे की देखभाल की जिम्मेदारी से निपटना मुश्किल हो सकता है,  जबकि जन्म देने के बाद से वह खुद भी पुनः स्वस्थ होने की प्रक्रिया में है। नई मां अपनी नई जिम्मेदारियों से दिक्कत महसूस कर सकती हैं यहां बताया गया है कि किस तरह आप खुद का ध्यान रख सकती हैं:

- जन्म देने के बाद कुछ दिनों या सप्ताह तक कमजोरी या थकान महसूस होना सामान्य बात है। हो सकता है कि रक्त की हानि ज्यादा हुई हो, और आप थकान या कंपकंपी महसूस कर सकती हैं। वजन में अचानक कमी और पेट में 'खालीपन' की भावना आती है शुरुआती 2-3 सप्ताह में अच्छी तरह से आराम करें।

- बहुत सा पानी और तरल पदार्थ पीएं। इस चरण के दौरान भरपूर जलयोजन बहुत महत्वपूर्ण है।

- पौष्टिक भोजन से युक्त सामान्य आहार लें। नई मां को पोषक तत्वों से भरा भोजन करना चाहिए। अपने आहार के बारे में अपने चिकित्सक से संपर्क करें और दूसरे क्या कहते हैं उनके बजाय चिकित्सक के सुझावों पर ही अमल करें। आहार को लेकर कई पारंपरिक मान्यताएं हैं। वैज्ञानिक और चिकित्सकीय रूप से सही आहार नियमों को ही अपनाने का प्रयास करें।

- स्तनपान: नई माताओं के लिए शुरुआती कुछ दिन कठिन हो सकते हैं। अस्पताल में डॉक्टरों या नर्सों की सहायता लें। स्तनपान के बारे में सलाह मांगने में संकोच न करें और अपने आप पर अनावश्यक दबाव न डालें। इसमें सही स्थिति, एक आरामदायक मुद्रा एवं मनोदशा, और स्तनपान का सही दृष्टिकोण शामिल है। यदि अभी भी संदेह में हैं, तो एक स्तनपान सलाहकार से बात करें

-  बहुत ज्यादा भावुकता महसूस करना स्वाभाविक है,  और आप अपने बच्चा पैदा करने के निर्णय पर सवाल उठा सकते हैं - खासकर शुरुआती कुछ दिनों में, अपने घर पर एक सहायिका रखने से आपको बच्चे की देखभाल करने के साथ ही पर्याप्त आराम करने में मदद मिलती है

- शुरुआती कुछ महीनों में, थका हुआ महसूस और निर्णय लेने में असमर्थ लगना करना पूरी तरह से सामान्य है। यह बहुत आम बात है। यदि आपको लगता है कि यह बच्चे की देखभाल में बाधा बन रहा है, तो मदद लें।

-  व्यायाम: जन्म के कुछ हफ्तों के बाद आप हल्के अभ्यास के साथ शुरू कर सकते हैं। अपनी शारीरिक स्थिति के लिए सबसे अच्छा क्या रहेगा, इस बारे में अपने चिकित्सक से बात करें।

- नवजात शिशु आपका बहुत समय और ध्यान ले सकता है,  और कई नई माताएं अपने पति के साथ समय बिताने में असमर्थ रहती हैं। ऐसे में अपने पति को बच्चे की देखभाल में शामिल करें;  इस तरह आप जिम्मेदारियों को साझा करने और एक साथ समय बिता सकते हैं।

-  यदि बच्चे की देखभाल बहुत तनावपूर्ण है, तो उस दौरान अपने लिए कुछ समय ढूँढ़ने की कोशिश करें, जब बच्चे को किसी और के द्वारा देखे जा रहा हो।

- जब बच्चा खुश और शांत हो, तो उस वक्त बच्चे के साथ समय व्यतीत करें।

काम करने वाली भावी माताओं के लिए

- हमेशा अपने बच्चे के पैदा होने से पहले ही बच्चा होने के बाद के कामकाज की योजना तैयार कर लें।

- अपनी आवश्यकताओं के बारे में अपने प्रबंधक या एचआर के साथ एक स्पष्ट चर्चा करें। आप कभी-कभी चक्कर आना या ऊर्जा में कमी महसूस कर सकती हैं। जब आपके शरीर को विराम की जरूरत हो तो ब्रेक लेने के लिए एचआर की सहमति लें। घर से काम करने के विकल्पों को तलाशें। बच्चों वाली महिला कर्मचारियों से संबंधित कार्य नीतियों और सुविधाओं के बारे में पता करें।

- विराम के समय: क्या आप 10-15 मिनट के लिए झपकी या ब्रेक ले सकते हैं?

- जब आप बच्चे से दूर कार्यस्थल पर हैं तो स्तन के दूध को निकालने और संग्रहित करने के तरीके सीखकर शिशु आहार का प्रबंध करें।

 - तनाव का बच्चे और मां दोनों पर असर पड़ता है यदि काम तनाव पैदा कर रहा है,  तो अपने प्रबंधक से बात करें और देखें कि क्या आपकी ज़िम्मेदारियों में संशोधन करना संभव है। यह जांचें कि आप यात्रा की थकान से बचने के लिए क्या घर से काम कर सकती हैं। अपने संगठन की मातृत्व अवकाश नीतियों का उपयोग करें।

वाइट स्वान फाउंडेशन
hindi.whiteswanfoundation.org