गर्भावस्था: भावनात्मक रूप से अच्छी तरह से कैसे रहें

मानसिक खुशहाली प्रत्येक व्यक्ति के दिन-प्रतिदिन कार्य करने के लिए महत्वपूर्ण है। जब एक महिला गर्भवती होती है, तो वह अपने भीतर एक और मानव जीवन को रखती है;  इस कारण उसका मानसिक रूप से खुशहाल रहना और भी अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है। हम में से कई लोग गर्भावस्था के एक सुखद, आनंददायक अनुभव होने की कल्पना करते हैं। कभी-कभी, हम यह स्वीकार नहीं करते हैं कि गर्भावस्था अपने साथ कई हार्मोनल परिवर्तन लेकर आती है, और जिनसे काफी उतार-चढ़ाव के बंधन जुड़े रहते हैं। इसके साथ ही किसी गर्भवती महिला को शारीरिक और मनोवैज्ञानिक परिवर्तनों का भी सामना करना पड़ता है।

एक महिला जो पहली बार मां बन रही है, उसके लिए गर्भावस्था कई तरीकों से तनावपूर्ण लग सकती है। एक निश्चित उम्र से ऊपर की महिलाओं के लिए बच्चे के स्वास्थ्य के बारे में सोच और चिंताएं हो सकती हैं। इससे उनमें कई प्रकार के डर पैदा हो सकते हैं।

गर्भावस्था से पहले

अपने स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेने के लिए अपने डॉक्टर या स्त्री रोग विशेषज्ञ से मुलाकात करें। अपनी चिंताओं के बारे में उन्हें बताएं और अपने सभी सवालों के जवाब हासिल करें। इनकी जानकारी होने से गर्भावस्था के दौरान आपको अच्छी तरह रहने में मदद मिलेगी।

गर्भावस्था के दौरान:

मैं अपने शारीरिक बदलावों का सामना कैसे कर सकती हूं?

गर्भावस्था एक ऐसा समय है जब आपका जीवन बदल रहा है, आपके शरीर और स्वास्थ्य में कई चुनौतियां या परिवर्तन होते हैं जिन्हें आपको अनुकूलित करने की आवश्यकता होती है। गर्भावस्था के दौरान, शारीरिक रूप से और मानसिक रूप से अपने स्वास्थ्य की देखभाल करना आपके लिए महत्वपूर्ण है। स्वस्थ तरीके से इन परिवर्तनों का सामना करने के लिए आप कुछ चीजें कर सकती हैं:

• अपनी मां, बहन या उन दोस्तों से बात करें जो इस प्रक्रिया से गुजर चुकी हैं, या आपकी क्या अपेक्षाएं हो सकती हैं इसे बेहतर ढंग से समझने के लिए किताबें पढ़ें।

• यदि आप बदलावों का सामना करने में मुश्किल महसूस कर रही हैं तो किसी दोस्त, पारिवारिक सदस्य या परामर्शदाता से बात कर सकती हैं।

• हार्मोनल परिवर्तनों के कारण अक्सर चिंता और मनःस्थिति में उतार-चढ़ाव की संभावना रहती है। इस दौरान क्या सामान्य है, इसे समझने के लिए या जब भी आपको सहायता की आवश्यकता हो, अपनी स्त्री रोग विशेषज्ञ से बात करें।

मैं अपनी मानसिक खुशहाली को कैसे बढ़ा सकती हूं?

• अपनी दिनचर्या को जारी रखें जब तक कि डॉक्टर इसमें बदलाव करने को न कहे। घरेलू काम करना पूरी तरह से ठीक है!

• अपने शरीर की सुनें। पर्याप्त विश्राम करें।

• नियमित एक्सरसाइज करें - योग या पैदल चलना हल्के अभ्यास हैं, जो शारीरिक रूप से फिट रहने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

• बच्चा जब गर्भ में घूमना शुरू कर दे, आप बच्चे से बात करना या उसे गाना सुनाना शुरू कर सकती हैं। यह जन्म से पहले अपने बच्चे के साथ आपका बंधन बनाने में मदद कर सकता है।

• अपने भावनाओं और चिंताओं को परिवार और दोस्तों के साथ साझा करें

• खुद को पुस्तक पढ़कर, संगीत सुनकर या फिल्म देखकर खुश रखें।

• पौष्टिक भोजन खाएं: रंगीन भोजन आपकी भूख बढ़ा सकता है। सुनिश्चित करें कि आप संतुलित आहार ले रही हैं। अपने भोजन की लालसा भी पूरी करती रहें।

 • सुखद रंगीन, अच्छी तरह से फिट कपड़े पहनें, जिनमें आप सहज महसूस करती हैं; इससे आपको अपने शरीर के बारे में आत्मविश्वास मिलेगा।

• बच्चे के लिए योजना बनाने में अपने साथी को शामिल करें;  प्रसव पूर्व की जांचों के दौरान उन्हें अपने साथ लेकर जाएं।

• अपनी जरूरतों को महत्वपूर्ण बनाएं। खुद का पूरा ख्याल रखें और अपनी आवश्यकताओं के बारे में आस-पास के लोगों को स्पष्ट रूप से बताएं।

• गर्भावस्था के बारे में बहुत ज्यादा पढ़ने से बचें यदि यह आपकी चिंता बढ़ाता है। ऐसी कुछ वेबसाइट्स हैं जो आप में होने वाले परिवर्तनों का पता लगाने में सहायता करती हैं, और आपको मार्गदर्शन देती हैं। इन पर ध्यान केंद्रित करें।

• यदि आपको कोई संदेह या चिंता है तो अपने डॉक्टर से बात करने में किसी प्रकार का संकोच न करें।

No stories found.
वाइट स्वान फाउंडेशन
hindi.whiteswanfoundation.org