समाज एवं मानसिक स्वास्थ्य

लोगों की भावनात्मक समस्याओं पर हम कैसे प्रतिक्रिया करते हैं

वाइट स्वान फ़ाउंडेशन

हम सभी के साथ ऐसा हुआ है, कि कभी कोई दोस्त हमारे पास आया और कहा कि वह किसी चीज के बारे में बहुत चिंतित हैं। कोई चीज, जिसके बारे में हमने सोचा होगा कि यह निरर्थक है, जिस पर हमने ध्यान ही नहीं दिया। ऐसा कई बार हुआ होगा कि उन्होंने अपनी चिंता को बार-बार व्यक्त किया हो। उस स्थिति में आपने कैसी प्रतिक्रिया की? क्या आप संवेदनशील थे? क्या आपने संयम से सुना?  या क्या आपने उनसे "इससे छुटकारा पाने" के लिए कहा। या फिर ऐसा कुछ कहा कि "हर किसी के पास समस्याएं हैं"।

उस दोस्त का क्या हुआ जो सप्ताहभर पूरी तरह उदास रहा? क्या आपने उनसे संपर्क किया और पूछा कि क्या गड़बड़ी हुई? या आपने उन्हें सिर्फ इतना कहा कि "खुश हो जाओ", या यह सोचा हो कि उन्हें अकेला छोड़ देना सबसे अच्छा है (आंशिक रूप से, क्योंकि यह आपकी खुद की मनोदशा को गिरा रहा था)? ये आम प्रतिक्रियाएं हैं लोगों को मिलती हैं, जब वे अपने भावनात्मक मुद्दों के बारे में किसी को खुलकर बताते हैं।

तीन व्यापक श्रेणियां हैं जिनमें हमारी प्रतिक्रियाओं को वर्गीकृत किया जा सकता है:

हम उनकी समस्या को कमतर आंकते हैं: हम उन्हें कहते हैं कि वे इसे ज्यादा ही सोच रहे हैं, या किसी और के पास इससे बड़ी समस्याएं हैं।

हम उनकी समस्या से बचते हैं: हम दूर रहते हैं, क्योंकि हम नहीं जानते कि करना क्या है, या कुछ भी करना ही नहीं चाहते।

हम मदद करने की कोशिश करते हैं: हम उन्हें धैर्य से सुनते हैं और उनके मुद्दों को गैर-आलोचनात्मक तरीके से समझने की कोशिश करते हैं।

जब कोई भावनात्मक संकट में है, तो पता लगाना आसान नहीं है। इसके अलावा, जब उन्हें पहली दो श्रेणियों में आने वाली प्रतिक्रिया मिलती है, तो यह उन्हें और अलग कर देता है। यह उन्हें अपनी समस्याओं के बारे में खुलासा करने से रोकता है, जिससे वे खुद ही अपने मुद्दों से निपटने के बारे में सोचने लगते हैं। लंबे समय तक निंदा के इस चक्र में संभावित गंभीर प्रभाव पड़ सकते हैं। यदि लोग संकट से निपटने में असमर्थ हैं, तो ये चिंता और अवसाद की नैदानिक ​​समस्याओं को विकसित कर सकता है।

संकटग्रस्त लोगों को क्या चाहिए- एक संयमी और गैर-आलोचनात्मक सुनने वाला। उन्हें यह जानना चाहिए कि जिस किसी पर वे भरोसा करते हैं, उसके पास जाने पर वह व्यक्ति सहानुभूति जताएगा और उनकी समस्याओं की बेकद्री नहीं करेगा।

वाइट स्वान फाउंडेशन
hindi.whiteswanfoundation.org